वाराणसी। पर्यटन नगरी बनारस में होटल और लॉज की भरमार है। इसी क्रम में एडीएम प्रोटोकॉल की रिपोर्ट के बाद पर्यटन विभाग में 41 होटलों और लॉज जो बिना सराय एक्ट और बिना पीजी के लाइसेंस के चल रहे थे। इसके अलावा 9 गेस्ट हाउस ऐसे हैं जिसमें अनैतिक कार्य करवाया जा रहा है। इन सभी पर अब करवाई की तैयारी शुरू हो गई है।

इस संबंध में पर्यटन अधिकारी कीर्तिमान श्रीवास्तव ने बताया कि एडीएम प्रोटोकॉल ने एक रिपोर्ट हमारी विभाग में भेजी थी, इसके अलावा 9 का पंजीयन है लेकिन इनमें अनैतिक कार्य होने की सूचना मिली है। इस संबंध में हमारी तरफ से पर्यटन सूचना अधिकारी और पर्यटन पुलिस की एक टीम गठित की गई थी।

कीर्तिमान श्रीवास्तव ने बताया कि जब टीम जांच करने गए तो मौके पर कई सारे गेस्ट हाउस बंद मिले और जो खुले थे उसमें वैध लाइसेंस नहीं था। इसके अलावा अनैतिक कार्यों की जो सूचना मिली थी उसे भी हमारी टीम ने चेक किया तो कुछ ने शटर गिरा लिया। उन्होंने बताया कि एलआईयू की जो रिपोर्ट थी वह तथ्यों के आधार पर सही थी।

पर्यटन अधिकारी ने बताया कि जांच के बाद इसमें आगे कार्रवाई के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट तृतीय को लिखित दिया गया है और इसमें एक यह भी सुझाव दे दिया गया कि जिन जिन विभागों से सराय एक्ट में आख्या मांगी जाती है उन विभागों की भी टीम बना ली जाए। टीम गठित होने के बाद इस प्रकरण में व्यापक कार्रवाई होगी।