CM YOGI JI

लखनऊ वाराणसी वैश्विक महामारी पूर्णा से लड़ते हुए देश को 6 महीने से अधिक हो गए हैं। ऐसे में चरणबद्ध तरीके से लगे लाॅकडाउन के बाद अनलॉक का दौर जारी है । इसी बीच मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में लाॅकडाउन को पूरी तरह से खत्म कर दिया है ।पहले से निर्धारित रविवार साप्ताहिक बंदी को खत्म कर दिया गया है ।और पूर्व में लागू शासन के नियमों को बहाल कर दिया गया है। इसके अलावा बाजारों के खुलने का टाइम भी 9: 00 बजे सुबह से 9: 00 बजे रात तक कर दिया गया है ।यह आदेश अनलाॅक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ में समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने लखनऊ में दिए हैं।

समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में जो भी विकास की योजनाएं चल रही है उन्हें गति दी जाए‌ कोरोना संक्रमण के प्रति लोगों को जागरूक करने के साथ ही आर्थिक गतिविधियों को तेजी से बढ़ावा दिया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए प्रदेश के सभी होटल और रेस्टोरेंट कंटेनमेंट जोन छोड़कर खोलने की निर्देश दिए हैं। इन सभी गतिविधियों के संचालन में कोरोना एसओपी का अक्षरश: अनुपालन करना होगा । इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में सभी लोगों का कोविड -19 टेस्ट कराया जाए। कंटेनमेंट जोन में सघन कांटेक्ट ट्रेसिंग तथा हाउस टू हाउस सर्विलांस होगा । केवल चिकित्सीय आपातकालीन स्थिति व आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को छोड़कर कोई भी व्यक्ति ना अंदर आ सकेगा ना बाहर जा सकेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज की समीक्षा बैठक के बाद सभी तहसील और थानों पर तहसील दिवस और थाना दिवस आयोजित किए जाने का निर्देश दिया है । उन्होंने कहा कि ईज़ आफ़ लिविंग की दिशा में कार्य योजना बनाकर प्रयास किए जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि इससे लोगों के जीवन में परिवर्तन आएगा।

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में जीएसटी कलेक्शन बढ़ाने का भी निर्देश अफसरों को दिया है। उन्होंने किसानों की मदद के लिए जीरो बजट खेती के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाने का भी निर्देश दिया। इसके साथ ही ‘मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि मुख्यमंत्री निराश्रित और बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना’ के तहत को गौ आश्रय स्थलों से कुपोषित बच्चों के परिवार के लोगों को गाय उपलब्ध कराई जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निकायों में अमृत योजना के कार्यो में तेजी लाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सड़कों को पूर्णतया गड्ढा मुक्त बनाने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने एसजीपीजीआई, केजीएमयू और डॉक्टर राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान को 1000 आईसीयू बेड तैयार करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के इलाज में संसाधनों की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी।